अमेरिका ने माना-पुतिन और जेलेंस्की में सिर्फ भारत करा सकता है सुलह..

Hindi News 07 Jan 2023 6

यूक्रेन और रूस के बीच चल रहे भीषण युद्ध का 11वां महीना चल रहा है, मगर अभी तक यह किसी नतीजे पर नहीं पहुंच सका है, भारत शुरू से ही दुनिया को संदेश देता रहा है कि "यह युग युद्ध का नहीं है" और बातचीत के जरिये समस्या का स्थाई समाधान निकाला जाना चाहिए।..

यूक्रेन और रूस के बीच चल रहे भीषण युद्ध का 11वां महीना चल रहा है, मगर अभी तक यह किसी नतीजे पर नहीं पहुंच सका है। भारत शुरू से ही दुनिया को संदेश देता रहा है कि "यह युग युद्ध का नहीं है" और बातचीत के जरिये समस्या का स्थाई समाधान निकाला जाना चाहिए। युद्ध को लंबा खिंचता देख अब अमेरिका की भी एकमात्र और सबसे बड़ी उम्मीद भारत ही बन गया है। अमेरिका को लगता है कि यूक्रेन युद्ध समाप्त करवाने में भारत महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है। अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन प्रशासन ने कहा है कि भारत और अमेरिका इस बात से  बहुत अधिक सहमत हैं कि यूक्रेन में स्थाई शांति की बहाली आवश्यक है। अमेरिका का मानना है कि भारत ही रूस के राष्ट्रपति व्लादिमिर पुतिन और यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की के बीच में सुलह करा सकता है। पीएम मोदी में यह क्षमता है कि वह यूक्रेन युद्ध को समाप्त करवा सकते हैं। अमेरिका ने पीएम मोदी की जमकर तारीफ की है। अमेरिका का कहना है कि भारत यूक्रेन युद्ध को समाप्त करवाने में सक्षम है। भारत ऐसा देश है जो यूक्रेन और रूस दोनों पक्षों को बातचीत और कूटनीति की मेज पर ला सकता है। युद्ध के आरंभ में ही इसे तत्काल समाप्त करने का आह्वान करने और यूक्रेन को मानवीय सहायता देने के लिए भी अमेरिका ने पीएम मोदी और भारत के कदमों की तारीफ की है। अमेरिका का मानना है कि रूस और यूक्रेन के साथ संबंध रखने वाले भारत जैसे देश संबंधित पक्षों को बातचीत और कूटनीति की मेज पर लाने में मदद करने की स्थिति में हो सकते हैं, जिससे एक दिन यह युद्ध समाप्त हो सकता है। 

read more at India TV.

Hindi News

Living in India

Comments

Picture


EXPLORE MORE INTEREST