वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने दिया बयान: अमेरिका अगर भारत से दोस्ती चाहता है तो उसे समझना चाहिए कि..

Hindi News 24 Apr 2022 21

वॉशिंगटन में भारतीय पत्रकारों के एक समूह से बातचीत में उन्होंने कहा कि भारत और अमेरिका के बीच द्विपक्षीय रिश्ते आगे बढ़ने के साथ-साथ मजबूत हुए हैं।..

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि भारत भौगोलिक स्थिति को देखते हुए रूस जैसे मुद्दों पर ‘सधा हुआ रुख’ अपना रहा है। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि यदि अमेरिका भारत के रूप में एक मित्र चाहता है तो उसे समझना चाहिए कि दोस्त को कमजोर नहीं किया जाना चाहिए। सीतारमण विश्व बैंक और अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) की वार्षिक बैठकों में हिस्सा लेने के लिए अमेरिका पहुंची थीं। वॉशिंगटन में भारतीय पत्रकारों के एक समूह से बातचीत में उन्होंने कहा कि भारत और अमेरिका के बीच द्विपक्षीय रिश्ते आगे बढ़ने के साथ-साथ मजबूत हुए हैं और यूक्रेन युद्ध के बाद इसमें अधिक अवसर पैदा हुए हैं। अमेरिका दौरे पर वित्त मंत्री ने कई द्विपक्षीय बैठकें कीं और विभिन्न बहुपक्षीय बैठकों में हिस्सा लिया। उन्होंने बायडेन प्रशासन के कई शीर्ष अधिकारियों के साथ संवाद किया। द्विपक्षीय संबंधों से जुड़े एक सवाल पर सीतारमण ने कहा, ‘यह माना जा रहा है कि अमेरिका के साथ भारत के रिश्ते आगे बढ़े हैं। ये और गहरे हुए हैं। इन पर कोई भी सवाल नहीं उठा रहा है। लेकिन यह भी स्पष्ट है कि रक्षा उपकरणों के लिए रूस पर पारंपरिक निर्भरता ही नहीं, बल्कि भारत के उससे कई दशक पुराने रिश्ते भी हैं। और यदि मैं थोड़े विश्वास के साथ कुछ कह सकती हूं तो यह एक सकारात्मक समझ है। यह एक नकारात्मक समझ नहीं है।’

read more at India TV.

Hindi News

Living in India

Comments

Picture


EXPLORE MORE INTEREST